अभिषेक

अभिषेक का अर्थ होता है स्नान करना या कराना। रुद्र अभिषेक जहां पंचामृत पूजा मंत्रोच्‍चारण के साथ त्र्यंबकेश्वर भगवान को अर्पण किया जाता है इससे उस व्यक्ति की सभी मनोकामना पुर्ण होती है।

यह रुद्रा अभिषेक से समृद्धि, सभी इच्छाओं को पूरा होणे कि ताकद तथा नकारात्मक छटा का नाश और जीवन में सभी ओर खुशी मिलती है।

इस पंचामृत पूजा मे दूध, दही, घी, शहद और चीनी शामिल हैं। इसके विधान वेदो में उदघृत मंत्रो से होता है। फिर भी यदि उन मंत्रो का ज्ञान नहीं है तो ओम नम:शिवाय कर सकते है।

1. रुद्र अभिषेक
2. लघु रुद्र अभिषेक
3. महा रुद्र अभिषेक